श्रेया अधिकारी
श्रेया अधिकारी-Image

श्रेया अधिकारी आईडीआर में एक संपादकीय सहयोगी हैं और लेखों को लिखने, उनके संपादन, सोर्सिंग और प्रकाशन की ज़िम्मेदारी सम्भालती हैं। उन्हें मीडिया एवं संचार के क्षेत्र में पांच साल से अधिक का अनुभव है। साथ ही वह सोशल मीडिया प्रबंधन, ब्रांडिंग और रणनीति की भी विशेषज्ञ हैं। उन्होंने जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल सहित भारत और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न कला एवं संस्कृति उत्सवों में कोर टीम सदस्य के रूप में इनसे जुड़ी तैयारियों और उनके आयोजन पर काम किया है।




श्रेया अधिकारी के लेख


नारेबाज़ी करती महिलाएं -महिला सशक्तिकरण

September 14, 2022
सामाजिक बदलाव के लिए ज़मीनी अनुभवों से सीखना
सुजाता खांडेकर कोरो की संस्थापक निदेशक हैं। आईडीआर से उनकी इस बातचीत में जानिए कि सामाजिक परिवर्तन की कोशिशों में जमीनी स्तर के ज्ञान और अनुभव को कैसे शामिल किया जा सकता है।
सामाजिक कार्यकर्ता और कच्छ महिला विकास संगठन की संस्थापक सुषमा अयंगर का चित्रण-महिला सशक्तिकरण

July 27, 2022
आईडीआर इंटरव्यूज । सुषमा अयंगर
कच्छ में अपने अभूतपूर्व काम के लिए जानी जाने वाली सुषमा अयंगर आईडीआर से बातचीत में बता रही हैं कि उनका सारा ध्यान महिला अधिकार और ग्रामीण विकास पर क्यों हैं। साथ ही उन्हें क्यों लगता है कि आज महिला सशक्तिकरण का दायरा आर्थिक परिवर्तन तक सीमित है।
एक काउंटर के दूसरी तरफ़ मज़दूर खड़े हैं_ई-श्रम

June 14, 2022
ई-श्रम रजिस्ट्रेशन की प्रक्रियाओं से जुड़ी अव्यवस्था
अपने ई-श्रम कार्ड रजिस्ट्रेशन के लिए देश भर के अनौपचारिक मज़दूरों को आर्थिक लाभ से जुड़ी अफ़वाहों, धोखाधड़ी और मुश्किल प्रक्रियाओं का सामना करना पड़ता है।