अनामिका प्रियदर्शिनी
अनामिका प्रियदर्शिनी-Image

अनामिका प्रियदर्शिनी, पीएचडी, सेंटर फॉर कैटेलाईजिंग चेंज में शोध विभाग में वरिष्ठ विशेषज्ञ के रूप में काम करती हैं। उन्होनें एकादमिक और विकास पेशेवर के रूप में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संगठनों में काम किया है। वे कई शोध परियोजनाओं की प्रमुख रही हैं और उन्होनें ब्रिल, इकनॉमिक & पॉलिटिकल वीक्ली, मेनस्ट्रीम और सोशल चेंज जैसी पत्रिकाओं के लिए लेख लिखे हैं। उन्होनें कॉर्नेल विश्वविद्यालय से अंतर्राष्ट्रीय विकास में एमए किया है और बफेलो में स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ न्यू यॉर्क से वैश्विक लैंगिक अध्ययन में पीएचडी की है।




अनामिका प्रियदर्शिनी के लेख


नीले और सफ़ेद स्कूल वाले कपड़ों में साइकल पर लड़कियां-बाल विवाह बिहार

अप्रैल 27, 2022
बिहार में बाल विवाह: यह अब तक क्यों चला आ रहा है?
बिहार में हर पाँच लड़कियों में से दो से अधिक की शादी कम उम्र में हो जाती है। यहाँ राज्य में होने वाले बाल विवाहों के पीछे के कारणों के बारे में बताया गया है साथ ही इस प्रथा में कमी लाने वाले कुछ तरीकों के बारे में भी बात की गई है।