अंशु गुप्ता
अंशु गुप्ता-Image

कपड़ा आदमी के रूप में लोकप्रिय अंशु गुप्ता ने गरीबी और इससे संबंधित समस्याओं को ख़त्म करने वाले एक टिकाऊ आर्थिक प्रारूप मुहैया करने के लिए गूंज की स्थापना की थी। इनके नेतृत्व में गूंज ने शहरी अधिशेष और ग्रामीण समाज के लोगों के श्रम के बीच एक वस्तु विनिमय व्यवस्था को बनाया जिससे ग्रामीण इलाकों में बड़े पैमानों पर विकास से जुड़े काम शुरू हुए। फोर्ब्स पत्रिका ने इन्हें भारत के सबसे शक्तिशाली ग्रामीण उद्यमी की सूची में शामिल किया है। इन्हें अशोका और श्च्वब फ़ेलोशिप के अलावा कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। भारत में देने की संस्कृति को बदलने और गरीबों के लिए एक सतत विकास संसाधन के रूप में चीजों को सामने लाने के इनके काम के लिए अंशु गुप्ता को मैगसेसे पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।




अंशु गुप्ता के लेख